Controlling strain: स्ट्रेस होने पर करें ये 5 सिम्पल काम, मिनटों में भागेगा तनाव

Stress - Pernille Nejst

Controlling strain: स्ट्रेस होने पर करें ये 5 सिम्पल काम, मिनटों में भागेगा तनाव

जब तनाव बहुत अधिक बढ़ जाए या बार-बार और लम्बे समय तक तनाव की समस्या बनी रहे तो इससे कई तरह की बीमारियां और मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याएं भी बढ़ जाती हैं।
How to manage chronic strain: भागदौड़ और लगातार बढ़ते काम, प्रदूषण और अनहेल्दी लाइफस्टाइल जैसे कारणों से तनाव तेजी से बढ़ रहा है और आज तनाव लगभग हर दूसरे व्यक्ति के जीवन का एक हिस्सा बन गया है। वहीं, रोजमर्रा की जिंदगी में होनेवाली घटनाएं और स्थितियां तनाव और दुख को और भी अधिक बढ़ाने का काम करती हैं जिससे, लोगों के लिए स्ट्रेस से निजात पाना और भी मुश्किल हो सकता है। लम्बे समय तक तनाव महसूस करना लोगों की सोशल, प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ को बुरी तरह प्रभावित कर सकती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, जब तनाव बहुत अधिक बढ़ जाए या बार-बार और लम्बे समय तक तनाव की समस्या बनी रहे तो इससे कई तरह की बीमारियां और मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याएं भी बढ़ जाती हैं। वहीं, अगर लोगों को कोई बीमारी है तो वह गम्भीर बन सकती है।

ऐसे में स्ट्रेस को कम करने और अपनी मेंटल हेल्थ को संभालने के लिए लोगों को अपना ख्याल रखने की सलाह दी जाती है। उन्हें खुद की भावनात्मक जरूरतों को समझना आवश्यक हो जाता है। स्ट्रेस को बढ़ने से रोकने के लिए कुछ गलतियों से बचने की भी कोशिश करनी चाहिए। इस लेख में आप पढ़ेंगे कि तनाव को कंट्रोल करने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं। (hints to address chronic strain in Hindi.)

तनाव को कम करने के लिए करें ये उपाय (tips to overcome chronic strain)

स्ट्रेस इटिंग से बचें ( keep away from strain consuming)

आमतौर पर देखा जाता है कि तनाव महसूस होने पर या मूड खराब होने पर लोग खुद को कंट्रोल करने की कोशिश नहीं करते। ऐसे में लोग ना तो अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देते हैं और ना ही डाइट पर। स्ट्रेस होने पर इमोशनल इटिंग (emotional ingesting) बढ़ जाती है और लोग अपनी पसंद की चीजें खाना-पीना शुरू कर देते हैं। आमतौर पर देखा गया है कि स्ट्रेस से गुजर रहे लोग चॉकलेट (chocolate), कॉफी (coffee), बर्गर (burger) जैसे शक्कर , फैट और कार्ब्स से भरपूर फूड्स खाने लगते हैं। लेकिन, इस तरह से बेतहाशा और अनहेल्दी खाने की आदतों के कारण आपके शरीर में कई तरह की समस्याएं बढ़ सकती हैं। इसीलिए, स्ट्रेस महसूस होने पर खाने-पीने पर ध्यान दें।

थोड़ी धीमी गति से करें काम
अगर आप बहुत अधिक व्यस्त हैं या आप हमेशा अपने काम पूरे करने की जल्दबाजी में रहते हैं तो इससे आपको तनाव महसूस हो सकता है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो टेंशन से बचने के लिए खुद को थोड़ा रिलैक्स करें, अपने काम को धीरे-धीरे पूरा करें और काम के बीच खुद को शांत रखने की कोशिश करें।

पौष्टिक डाइट खाएं (devour healthy and vitamins wealthy food regimen)
स्ट्रेस कंट्रोल करने के लिए लो-कार्ब फूड्स (Low carb meals) खाएं। फल-सब्जियां, साबुत अनाज, डेयरी प्रॉडक्ट्स, बींस और दलहन, नट्स, अंडे और मछली का सेवन करें। हर्बल टी (natural tea) पीएं और थोड़ी-थोड़ी देर बाद पानी पीते रहें। इलेक्ट्रोलाइट्स बैलेंस के लिए सीजनल सब्जियां और फल खाएं, नारियल पानी पीएं और छाछ, दही जैसी चीजों का भी नियमित सेवन करें।

इन सबके साथ-साथ अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करें और रोजमर्रा के जीवन में ये हेल्दी आदतें अपनाएं-

रोजाना 20-30 मिनट की एक्सरसाइज करें।
पानी पीएं और हाइड्रेटेड रहें।
प्रोटीन से भरपूरखाना खाएं।
ब्रीदिंग एक्सरसाइज (respiration sporting activities) करें।
योग और स्वीमिंग (swimming) जैसी एक्सरसाइजेस को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

Categories:

No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories