The risk of eye flu is spreading rapidly across the country identify these 5 symptoms immediately

Eye Flu इन वजहों से होता है कंजक्टिवाइटिस लक्षणों को पहचानें और ऐसे रोकें  इसे फैलने से - Eye Flu what is conjunctivitis its causes symptoms  prevention and cureदेशभर में तेजी से फैल रहा है आई फ्लू का खतरा, इन 5 शुरुआती लक्षण से तुरंत करें पहचान

Common eye infection : आंखों में इन्फेक्शन की परेशानी होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें। आइए जानते हैं इसके शुरुआती लक्षण क्या हैं और कैसे करें इससे बचाव-

Common Eye contamination : दिल्ली समेत देश के कई राज्य मानसून के दौरान आई बारिश से काफी ज्यादा परेशान है। खासतौर पर बरसात की वजह से आसपास जमा होने वाली पानी की वजह से होने वाली समस्याओं से लोग काफी ज्यादा परेशान है। डेंगू, मलेरिया के अलावा कई अन्य मानसूनी समस्याएं जन्म ले रही हैं, जिसमें कंजंक्टिवाइटिस भी शामिल है। इन दिनों भारी संख्या में कंजंक्टिवाइटिस से प्रभावित हैं। यह एक आई इन्फेक्शन है, जिसे पिंक आई इन्फेक्शन भी कहा जाता है। यह किसी भी व्यक्ति को हो सकता है। आइए जानते हैं आई इन्फेक्शन के क्या हैं लक्षण? कैसे करें इससे बचाव और कारण?

आंखों में संक्रमण यानी पिंक आई के क्या हैं लक्षण? – not unusual Eye infection signs and symptoms in Hindi
आंखों में संक्रमण की परेशानी होने पर आंखें सामान्य से अलग नजर आती हैं। शुरुआती अवस्था में इसके लक्षण निम्न हो सकते हैं, जैसे-

आंखों का लाल होना
आंखों में काफी ज्यादा खुजली या जलन.
आंखों में काफी दर्द होना
आंखों से पानी आना
आंखों के आसपास सूजन होना, इत्यादि।
आंखों में इन्फेक्शन के गंभीर लक्षण

आंखों से पीला और चिपचिपा मवाद निकलना
पलकें जो मवाद की वजह से आपस में चिपक जाना
प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता
धुंधली दृष्टि
बुखार, इत्यादि।

आंखों में संक्रमण का क्या है कारण – What causes an eye fixed infection?
आंखों में संक्रमण की परेशानी बैक्टीरिया, फंगस, परजीवी और वायरस से संक्रमित होने की वजह से हो सकता है। ये छोटे जीव कई अलग-अलग तरीकों से आपकी आंखों में प्रवेश कर सकते हैं, जिनमें आंखों की चोटें भी शामिल हैं। हालांकि, इन दिनों मानसून की वजह से आसपास जमा होने वाली गंदगी की वजह से आई फ्लू या आई इन्फेक्शन होने क खतर कफी ज्यादा बढ़ रहा है।

इसके अलावा आंखों में संक्रमण होने का सबसे आम कारण कॉन्टैक्ट लेंस पहनकर सोना हो सकता है। अगर आप अपने लेंस को ठीक से साफ करके नहीं पहनते हैं, तो इससे संक्रमण का खतरा काफी ज्यादा बढ़ सकता है।

आंखों को संक्रमण से कैसे रखें सुरक्षित? – the way to treat eye infection at home

अपने आसपास साफ-सफाई का अच्छे से ध्यान रखें।
किसी भी दूसरे व्यक्ति के इस्तेमाल किए गए बिस्तर, तौलिए इत्यादि का प्रयोग न करें।
आंखों को बार-बार छूने से बचें।
गंदे हाथों से आंखों को न छुएं।
बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन न करें।
मानसून में स्वीमिंग करने से बचें।
आई फ्लू से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें
कॉन्टैक्ट लेंस को साफ करके पहनें।
किसी भी संक्रमित चीज का इस्तेमाल न करें, इत्यादि।
ध्यान रखें कि आंखों में संक्रमण की परेशानी होने पर डॉक्टर से तुरंत सलाह लें, ताकि आपकी स्थिति की गंभीरता को कम किया जा सके। किसी भी संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाकर रखें। आंखों को अच्छे से साफ करके सोएं।

Categories:

No Responses

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories